7th Pay Commission: DA के बाद अब इस भत्ते में होगी बढ़ोतरी

आज का हमारा आर्टिकल बेहद ही खास होने वाला है क्योंकि आज के इस आर्टिकल में हम सभी लोग एक बहुत ही ज्यादा चर्चित विषय 7th Pay Commission पर बातें करने वाले हैं. हमें उम्मीद है कि हमारे इस आर्टिकल को पढ़ने के पश्चात आपको भी बहुत ही ज्यादा प्रसन्नता होगी.

आज के आर्टिकल में हम सभी लोग सातवें वेतन आयोग से जुड़ी जरूरी बातों पर विचार विमर्श करने वाले हैं.

जैसा कि इस बारे में सभी जानते ही हैं कि सातवां वेतन आयोग प्रत्येक केंद्रीय कर्मचारी के लिए कितना ज्यादा आवश्यक है इससे जुड़ी हर एक अपडेट सदैव सुर्खियों में ही रहती है.

जानिए क्या है खबर:

केंद्र सरकार एक बार पुनः अपने सभी केंद्रीय कर्मचारियों को खुश करने की योजना बना रही है.

सरकार कर्मचारियों के डीए बढ़ोतरी के साथ-साथ शीघ्र ही सरकार हाउस रेंट एलाउंस (HRA) बढ़ाने के विषय में सोच भी रही है और इसकी घोषणा भी जल्दी ही कर सकती है.

तो चलिए जानते हैं कि इससे जुड़ी कौन सी खबर इतनी ज्यादा जरूरी हो चुकी है .

सभी केंद्रीय कर्मचारियों के लिए बहुत सारी सुविधाएं सरकार आए दिन लाती रहती है. अभी हाल फिलहाल में ही इनके देअर्नेस एलाउंस में भी वृद्धि करी गई थी और जिसका प्रत्यक्ष प्रभाव उनके ट्रैवल एलाउंस पर भी पड़ा था.

अभी हाउस रेंट अलाउंस पर भी वृद्धि की घोषणा संभावना हो सकती है ऐसे में प्रत्येक केंद्र कर्मचारी खुशी से मानो झुम ही उठने वाला है.

सातवां वेतन आयोग (7th Pay Commission):

केंद्रीय कर्मचारियों को एक बार पुनः से सरकार खुशखबरी देने के लिए पूरी तरह से तैयार हो चुकी है.

सरकार ने दिए में बढ़ोतरी कर दी है इसके साथ ही साथ अब एक और भत्ते को बढ़ाने पर विचार किया जा रहा है किंतु ऐसा हुआ तो कर्मचारियों की सैलरी में एक बार फिर से बहुत बड़ी बढ़ोतरी की जाएगी .

प्राप्त जानकारियों के अनुसार दिए बढ़ोतरी के साथ-साथ एसआरए HRA मैं भी वृद्धि की घोषणा की जा सकती है वास्तविकता में दिए बढ़ने के साथ ही अचार में भी संशोधन का अनुमान लगाया जा सकता है.

DA, TA के बाद केंद्र सरकार की ओर से एक और बहुत बड़ी घोषणा की गयी है जो निश्चित रूप से काम करने वाले केंद्रीय कर्मचारी को खुश कर देगी।

केंद्रीय कर्मचारियों को मिल सकती है खुशखबरी:

केंद्रीय कर्मचारियों  (Central government employees) तथा पेंशनर्स के दीए को 4% तक बढ़ा दिया गया है.

अर्थात हर महीने कर्मचारियों को बढ़ी हुई सैलरी प्रदान की जाएगी इसके साथ ही अब एचआरए में भी शीघ्र ही बढ़ोतरी की जाने की घोषणा की जा सकती है. 

इससे पूर्व एचआरए में पिछले साल जुलाई में बढ़ोतरी की गई थी तब दिए को भी बड़ा करके 28% तक पहुंचा दिया गया था अब जब डीए 38% हो चुका है तब एचआरए में भी संशोधन संभवतः किया जा सकता है. 

HRA कैसे निर्धारित किया जाता है?

अब सबसे ज्यादा रोचक तथ्य पर आते हैं कि सरकारी कर्मचारियों के वास्ते h.r.a. किस प्रकार से निर्धारित किया जाता है.

हम आपको बता दें कि इस शहर की आबादी 5000000 से भी अधिक होती है वह शहर ‘X’ कैटेगरी के अंतर्गत आते हैं .

वहीं यदि बात की जाए 500000 से भी ज्यादा जनसंख्या वाले शहर की तो वह शहर ‘Y’ कैटेगरी के अंतर्गत आती है और यदि बात की जाए उन शहरों की जिनकी आबादी 500000 से कम है तो उन्हें ‘Z’ कैटेगरी के अंतर्गत रखा जाता है तीनों कैटेगरी के वास्ते मिनिमम HRA 5400, 3600 और 1800 रुपये होगा. 

भारत सरकार ने अपने केंद्रीय कमर्चारियों को खुश करने के लिए ही 7th pay commission के रूप में ख़ुशी की सौगात दी है.

एचआरए कितने का बढ़ सकता है?

इस हिसाब से कर्मचारियों का एचआरए उस शहर की शैली से निर्धारित किया जाता है जहां पर वह कार्य किया करते हैं.

मीडिया रिपोर्टों के मुताबिक X श्रेणी के शहरों में रहने वाले या फिर यहां पर काम करने वाले कर्मचारियों के एचआरए (HRA) मैं दीए की ही भांति 4% से लेकर के 5% तक की विधि संभवत बढ़ाई जा सकती है .

वैसे तो अभी हाल फिलहाल में इन शहरों के कर्मचारियों को मूल वेतन का 27% और प्रदान किया जाता है वहीं अगर बात की जाए Y कैटेगरी के शहरों के वास्ते एचआरए में 2% तक की वृद्धि होने की संभावना जताई जा रही है.

वैसे तो अभी हाल फिलहाल में इन शहरों को 18% से लेकर के 20% एचआर प्रदान किया जा रहा है .

वही अगर बात की जाए Z के शहरों के वास्ते 1% एचआरए विधि की संभावना जताई जा रही है इन्हें अभी 9% से लेकर के 10% के हिसाब से एचआरए प्रदान किया जा रहा है .

ट्रैवल एलाउंस में भी की गई थी वृद्धि:

वैसे तो केंद्रीय कर्मचारियों को बहुत सारी सुविधाएं उपलब्ध कराई जाती है उन्हें सुविधाओं में से एक है ट्रैवल एलाउंस पहले इसके तहत सभी केंद्रीय कर्मचारियों को ऑफिशियल टूर करने के वास्ते तेजस ट्रेन के प्रयोग की अनुमति नहीं थी.

लेकिन अब जबकि डिए अर्थात देअर्नेस एलाउंस भी रिद्धि की जा चुकी है तो ऐसे में इसका प्रत्यक्ष प्रभाव ट्रैवल एलाउंस में पड़ा है और इसी के परिणाम स्वरूप सभी केंद्रीय कर्मचारियों को अब ऑफिशियल टूर के लिए तेजस ट्रेन के प्रयोग की अनुमति भी प्रदान की गई है.

इसके अतिरिक्त महंगाई भत्ते और पेंशन से संबंधित बहुत सी जानकारियां आए दिन सरकार के द्वारा केंद्रीय कर्मचारियों तथा पेंशनर्स के समक्ष में प्रस्तुत करी जाती है जो वाकई में इन्हें प्रसन्नता प्रदान करती है.

निष्कर्ष:

सर्वप्रथम तो हम आप सभी लोगों का तहे दिल से धन्यवाद कहना चाहेंगे जो आपने हमारे इस आर्टिकल को आखिर तक पढ़ा.

हमें उम्मीद है कि हमारा आर्टिकल आपको बहुत ही ज्यादा पसंद आया होगा आज के इस आर्टिकल में हमने आप सभी लोगों के समक्ष सातवें वेतन आयोग से संबंधित जरूरी जानकारियां प्रस्तुत कि है.

यदि आप हमसे कोई सवाल पूछना चाहते हैं या फिर हमें कोई सुझाव देना चाहते हैं तो यह कार्य आप कमेंट के जरिए आसानी से कर सकते हैं .

Leave a Comment